“Raakh Lyrics in Hindi” राख ‘ गीत: इस हिंदी गीत को अरिजीत सिंह द्वारा गाया गया है,शुभ मंगल ज्यादा सावधान फिल्म के नए गीत का संगीत तनिष्क बागची ने दिया है जबकि गीत वायु द्वारा लिखा गया है ।

Song Credits :-

गाना: राख
एल्बम: शुभ मंगल ज्यादा सावधान
गायक: अरिजीत सिंह
लिरिक्स – वायु
म्यूजिक  – तनिष्क बागची
लेवल : टी -सीरीज

 

Raakh Lyrics in Hindi ( राख )

वो कहते है इश्क़ हद में करो
जो इश्क़ क्या है ना जाने
ये दिल तो अनपढ़ देहाती सा है
क्या कुछ लिखा है क्या जाने

बाहर से देखा जिन्होंने
अंदर चले क्या क्या जाने

हम जल जायेंगे राख बचेगी
इश्क़ में एक ना आग बचेगी
फिर भी इन सिली आखों में
आखरी लौ तक आस बचेगी

जल जायेंगे राख बचेगी
इश्क़ में एक ना आग बचेगी
फिर भी इन सिली आखों में
आखरी लौ तक आस बचेगी

चुप तो ना होगी मुहब्बत
दुश्वारियों से डरा के
उम्मीद इसका लहू है
है दर्द इसकी खुराकें
जितनी जख्म और जुड़ेंगे
उतनी बढ़ेंगी ये शाखे

वो काट डाले हमे चाहे रोज
जिद जड़ में है क्या करे
एक प्यार एक जंग
दोनों के दोष
एक घर में है क्या करेंगे

एक दिल ही बहुत है
किस किस की परवाह करेंगे

हम जल जायेंगे राख बचेगी
इश्क़ में एक ना आग बचेगी
फिर भी इन सिली आखों में
आखरी लौ तक आस बचेगी

जल जायेंगे राख बचेगी
इश्क़ में एक ना आग बचेगी
फिर भी इन सिली आखों में
आखरी लौ तक आस बचेगी

Written by वायु

Thanks. If you find any mistake in lyrics of This Song, please send correct lyrics in comments / Contact Us

Click to rate this post!
[Total: 0 Average: 0]